कश्यप सन्देश

kashyap-sandesh
21 July 2024

ट्रेंडिंग

निषाद समुदाय की कहानी: मनोज कुमार मछवारा की कलम से
माइक्रोसॉफ्ट सॉफ़्टवेयर आउटेज से वैश्विक हड़कंप, भारत में भी कई सेवाएं प्रभावित
निषाद समुदाय की कहानी: मनोज कुमार मछवारा की कलम से
निषाद समुदाय की कहानी: मनोज कुमार मछवारा की कलम से
दरभंगा जिला में जीतन साहनी हत्याकांड का सफल खुलासा

बांग्लादेश में ईद-उल-अधा की छुट्टी: भारत-बांग्लादेश व्यापार और ट्रेन सेवाओं पर प्रभाव

ढाका: बांग्लादेश में ईद-उल-अधा की एक सप्ताह लंबी छुट्टी के दौरान भारत और बांग्लादेश के बीच व्यापार और ट्रेन सेवाएं प्रभावित होंगी। हिली भूमि बंदरगाह आयात-निर्यात समूह के महासचिव ने बताया कि ईद की छुट्टियों के कारण 14 जून से 21 जून तक हिली भूमि बंदरगाह के माध्यम से बांग्लादेश और भारत के बीच व्यापारिक गतिविधियां बंद रहेंगी। हिली भूमि बंदरगाह पश्चिम बंगाल के दक्षिण दिनाजपुर जिले में भारत-बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास स्थित है।

हालांकि, हिली भूमि बंदरगाह के आव्रजन जांच-चौकी के प्रभारी अधिकारी ने बताया कि इस दौरान सीमा पार यात्रा जारी रहेगी। आव्रजन जांच-चौकी के माध्यम से यात्रियों को किसी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।

ईद की छुट्टियों के दौरान बांग्लादेश-भारत मार्ग पर तीन अंतरराष्ट्रीय ट्रेनों की सेवाएं निलंबित रहेंगी। इनमें ढाका-कोलकाता जाने वाली मैत्री एक्सप्रेस, ढाका-न्यू जलपाईगुड़ी जाने वाली मिताली एक्सप्रेस, और खुलना-कोलकाता जाने वाली बंधन एक्सप्रेस शामिल हैं।

हिली भूमि बंदरगाह पर व्यापार बंद होने से दोनों देशों के व्यापारियों को अस्थायी रूप से कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। इस बंदरगाह से आमतौर पर दोनों देशों के बीच विभिन्न वस्तुओं का आदान-प्रदान होता है, जो इन आठ दिनों के दौरान बंद रहेगा।

इस दौरान सीमा पार यात्रा और अन्य औपचारिकताओं को जारी रखने के लिए आव्रजन जांच-चौकी के प्रभारी अधिकारी ने विशेष इंतजाम किए हैं, ताकि यात्रियों को कोई समस्या न हो।

बांग्लादेश में ईद-उल-अधा की छुट्टी के बाद 22 जून से व्यापारिक और ट्रेन सेवाएं फिर से सामान्य हो जाएंगी, जिससे दोनों देशों के बीच संबंध और व्यापारिक गतिविधियां पुनः सजीव हो सकेंगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top